Pipes Dealership

 Pipes Dealership Eligibility

 

आवेदक की 21 वर्ष की आयु होनी चाहिए। 

आवेदक की योग्यता 10वीं होनी चाहिए | 

B2B पाइप्स व्यवसाय के बारे में ज्ञान होना चाहिए

 

Best Pipes dealership Requirement :

 

Proper Investment: आप सही निवेश के बिना कोई भी व्यवसाय नहीं कर सकते हैं इसलिए एक सैनिटरी वेयर डीलरशिप के लिए अच्छा निवेश करना बहुत जरूरी है।

Proper Land requirement: यदि आपको पाइपिंग का डीलरशिप मिल रहा है तो मैं आपको बता दूं कि आपको एक उपयुक्त स्थान की आवश्यकता है जहां आप आसानी से गोदाम बना सके और कार्यालय का काम कर सकें।

Important Documents: पाइप डीलरशिप के लिए, आपको कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज और लाइसेंस की आवश्यकता होती है।

Worker: शुरू में आपके पास कम से कम 3-4 कर्मचारी होने चाहिए।. 

Vehicle: सेनेटरी वेयर की आपूर्ति के लिए (यदि आवश्यक हो). 

 

Pipes Dealership Investment :

 

Pipes डीलरशिप शुरू करने के लिए आपको लगभग INR 20-25 लाख की आवश्यकता है। यह पूरी तरह से इस बात पर निर्भर करता है कि आप कितना बड़ा डीलर बनना चाहते हैं।. 

दुकान की लागत / गोदाम की लागत। 

इंफ्रास्ट्रक्चर कॉस्ट (कंपनी द्वारा सुझाए गए इंटीरियर)। 

कुछ उपकरण (कंप्यूटर सेट/लैपटॉप, प्रिंटर, बिलिंग सॉफ्टवेयर, आदि) 

श्रम लागत (न्यूनतम 3-5 होनी चाहिए) 

वाहन की लागत (यदि आवश्यक हो) 

सुरक्षा राशि: न्यूनतम 6 लाख और अधिकतम 10 लाख तक (कंपनी आपको सुरक्षा जमा पर प्रति वर्ष 9% ब्याज देगी)।

 

 Space Requirement for Pipes Dealership:

 

पाइप्स डीलरशिप शुरू करने के लिए आवश्यक न्यूनतम स्थान लगभग 1000- 1500 वर्ग फुट है। हालाँकि, यदि आप पाइप के साथ साथ अन्य पाइप्स सामग्री या कोई अन्य सैनिटरी आइटम बेचने की योजना बना रहे हैं, तो आपको अधिक स्थान की आवश्यकता पर सकती है।

 Shop Space: 300-500 sq ft. 

 Gowdown: 700-1000 sq ft. 

 

Important Documents For Pipes Dealership: 

Personal Documents: 

ID Proof: आधार कार्ड, पैन कार्ड , वोटर कार्ड

Address Proof: इलेक्ट्रिसिटी बिल/राशन कार्ड ,गैस कन्नेक्शन बिल

फोटोग्राफ, Email Id, मोबाइल Number 

करंट A/C and 3 Blank चेक .

 

Property Documents: 

Shop agreement / Sale deed 

Rent agreement 

NOC 

 

Business Documents: 

GST Number 

Outlet Trade license 

Financial Documents(ITR Of (यदि आवश्यक हो, तो कंपनी वित्तीय दस्तावेज भी मांग सकती है कि आपकी वित्तीय पृष्ठभूमि कैसी है) 

 

Profits & Margin: 

आपका मुनाफा और मार्जिन आपकी कुल बिक्री पर निर्भर करता है। यदि आप पर्याप्त बिक्री कर सकते हैं तो आप कंपनी से अधिक लाभ की उम्मीद कर सकते हैं। यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप क्लाइंट के साथ कैसा व्यवहार करते हैं, क्योंकि बहुत से लोग 8-9% में भी काम करते हैं। 

Read More: Top 10 CPVC Pipe Manufacturers in India

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *